Mancozeb Fungicide: M45 फफूंदनाशक का उपयोग, लाभ, फायदे, कीमत, डोज और सावधानिया

किसान भाई आलू की खेती कर रहे है !! या आपकी अंगूर की खेती है !! downy mildew और late blight का प्रकोप पौधे पर देखनेको मिलता है . जिससे टमाटर और आलू की क्वालिटी में गिरावट आती है साथ ही उपज कम होती है . अंगूर की उपज कम होती है फसल का नुकसान होता है!! किसान भाई आज हम बात करेंगे की, आप कैसे mancozeb fungicide की मदत से downy mildew और late blight को ख़त्म कर सकते है !!

ताकि हमारी फसल का नुकसान होने से बचे और हमे अच्छी उपज मिले . मार्केट में अच्छा भाव मिले और साथ ही हम जानेंगे indofill m-45 fungicide से जुडी कुछ महत्वपूर्ण बाते , जिसमे किन किन फसलो में हम इसका इस्तेमाल कर सकते है ? कितनी dose लेने है ? कितना इसका मार्केट रेट है ? क्या यंह हमारे फसलो को कोई नुकसान तो नहीं पहुंचाता है ? downy mildew, late blight किन कारणों से होता है? क्या इसके लक्षण होते है ? जानेंगे विस्तारसे .

यंह फफूंद किन कारणों से होता है ?

बतादे की downy mildew यंह Oomycete  फफूंद की वजह से होता है . पौधे की पुराणी पत्तियों पर पहले अटैक करता है . जिसमे पत्तियो के उपरी सतह पर पहले हलके हरे हरे धब्बे दीखते है जो बादमे पीले पीले दागो में बदल जाते है . यंह फफूंद पत्तियों के नीचेवाली सतह पर रहकर बढ़ता है . जैसे जैसे यंह बढ़ता है पौधे की पत्तिया भूरी पड़ती है और बादमे सुख जाती है .

mancozeb

और Late blight यंह oomycete pathogen Phytophthora infestans नामक फफूंद की वजह से होता है . जिसमे आप देखेंगे पत्तियों की निचे वाली सतह पर छोटे छोटे आकार में आपको लगेगा जैसे पत्तियों में से पानी सुख गया हो जो बादमे बढ़के बेंगनी भूरे रंग के दाग में बदल जाते है!! किसान भाई अब हम बात करते है indofil m-45 fungicide ( mancozeb ) का छिडकाव हम किन फसलो में कर सकते है ?

Crop Spray :

मुख रूपसे हम इसका छिडकाव धान, टमाटर, मूंगफली, आलू, ज्वार, मकई, मिर्च, तरबूज, खरबूज, प्याज, अदरक, पत्तागोभी, सोयाबीन, सूरजमुखी, सेंफ, नारियल, अक्रोड, अमरुद, केला, चुकंदर, लौकी, मसूर, गेंहू, करेला और अंगूर में कर सकते है!! किसान भाई अब हम बात करते है इसके अलवा mancozeb fungicide किन किन फफूंद की रोकथाम करता है ?

mancozeb

FUNGUS CONTROL-

brown rust, black rust, leaf blight, anthracnose, blast, early blight, buck eye rot, damping off, fruit rot, ripe rot, yellow disease, tikka disease, scab, black rot, fly speck, cigar end rot, sigatoka leaf spot और collar rot को यंह खत्म करता है .

इसमे मिलनेवाला टेक्निकल ?

इसमे किसान भाई हमे Mancozeb 75% WP  जो की wettable powder फॉर्म में आता है . यंह एक broad spectrum fungicide है . जो contact तरीकेसे काम करता है , जेसेही फफूंद इसके संपर्क में आता है वंह ख़त्म हो जाता है . साथ ही यंह broad spectrum fungicide की वजह से  अन्य फफूंद जनित रोगों को यंह असानिसे कंट्रोल करता है . पानी में असानिसे घुलमिल जाता है, protective होने की वजह से फफूंद जनित रोगों को आने से रोखता है .

बतादे की इसमे जिंक और मैंगनीज है जिससे पौधे में हरित लवक की मात्रा बढती है, फसल हरीभरी होती है .

मोड ऑफ़ एक्शन कैसा होता है ?

यंह फफूंद की बाहरी कोशिकावो तोडकर फफूंद की अंदर प्रवेश करता है और फंगस की membrane को ख़त्म करता है जिससे फफूंद धीरे धीरे मरने लगता है अंत: फफूंद ख़त्म हो जाता है!! रिजल्ट टाइम कि बात करे तो यदि छिडकाव के तुरंत बाद बारिश नहीं होती है तो यंह 10-15 दिन तक अच्छा रिजल्ट देता है . इसे आप टॉनिक ,NPK, किसी भी कीटनाशक के साथ मिक्स करके स्प्रे कर सकते है!! लेकिन आप खरपतवार नाशक के साथ मिक्स ना करे . फसल को नुकसान पहुंच सकता है .

साथ ही आप इसे lime sulphur ( सल्फर ) और बौर्डिओक्स के साथ मिक्स करके स्प्रे ना करे!! किसान भाई अब बात करते है फसलो को मिलनेवाले फायदों के बारेमे ?

CROP BENEFITS –

टमाटर :

पौधे को तनाव से बचाता है , फूलो की गलन कम करता है!! टमाटर में मुखत: late blight, buck eye rot और leaf spot को कंट्रोल करता है!! जिंक और मैंगनीज की कमी को दूर करता है!! पौधे को सुरक्षा प्रदान करता है . उपज को बढ़ाने केलिये सहायक है!! मजबूती देता है . पोधे का विकास करनेमे सहायता करता है . पौधे को हराभरा रखनेमे मदत करता है . पौधे को रोगों से लढ़ नेमे मदत करता है |

अंगूर :

अंगूर में होनेवाले मुख: angular leaf spot, anthracnose और downy mildew को कंट्रोल करता है!! मैंगनीज और जिंक की कमी को दूर करता है. पौधे को हराभरा करते है!! अंगूर की गुणवता बनाये रखता है . मार्केट में असानिसे बिकने में अपनी पकड़ बनाता है!! सुरक्षा प्रदान करता है . उपज में वृद्धी केलिये सहायक है . पौधे को मजबूती देता है . पोधे का विकास करनेमे सहायता करता है!! फसल को हराभरा रखनेमे मदत करता है . पौधे को रोगों से लढ़ नेमे मदत करता है .

मूंगफली :

मूंगफली में मुख्यतः tikka disease (leaf spot ) और rust को कंट्रोल करता है!! फसल को सुरक्षा प्रदान करता है . पौधे में जिंक की मात्रा बढाता है!! उपज बढ़ाने में मदत करता है . फसल को मजबूती देता है . विकास करनेमे मदत करता है!! पौधे को हराभरा रखनेमे मदत करता है. पौधे को रोगों से लढ़ नेमे ताकत देता है .

आलू :

आलू में आनेवाले फंगस early blight, late blight और downy mildew को कंट्रोल करता है!! उपज में वृद्धी केलिये सहायक है . फसल को मजबूती देता है . जिंक और मैंगनीज की कमी को दूर करता है!! आलू की क्वालिटी बनाये रखता है , जिससे मार्केट में रेट अच्छा मिलने में मदत होती है!! सुरक्षा प्रदान करता है . पोधे का विकास करनेमे सहायता करता है!! फसल को हरीभरी रखनेमे मदत करता है . पौधे को रोगों से लढ़ नेमे ताकत देता है |

धान :

धान में मुखत: blast को कंट्रोल करता है!! सुरक्षा प्रदान करता है, गुणवता बढाता है . उपज बढ़ाने में मदत करता है!! मजबूती देता है . मैंगनीज-जिंक की मात्रा बढाता है . पोधे का विकास करनेमे सहायता करता है!! फसल को हरीभरी रखनेमे मदत करता है . पौधे को रोगों से लढ़ नेमे मदत करता है!! किसान भाई अब हम बात करते है इसके dose के बारे मे ?

Price/ खर्चा कितना आ सकता है ?

तो यंह लगभग 1kg का पैक 550-600 रू तक आ जाता है लोकेशन के अनुसार थोडा price उपर निचे दिख्नेनेको मिल सकता है | किसान भाई आपके यंहा कितने रेट में मिल रहा है हमे जरुर बताये!! किसान भाई लोकल दवाईयो की खरीददारी से दूर रहीये जेन्युइन दवाईयो का चुनाव ही अच्छा रहता है!! अगर बात करे इसके निर्माता कंपनी के बारेमे तो यंह indofil agro का उत्पाद है . इसके अलावा किसान भाई आप इसे ऑनलाइन भी खरीद सकते है!! ऑनलाइन ख़रीदारी पर पाये 10-30% तक की छुट , आज ही ख़रीदे

किसान भाई बता दे की यंही टेक्निकल अन्य कंपनीया भी दे रही है . ऐसा कुछ नहीं है की आपको indofill m-45 fungicide ही लेना है यंही टेक्निकल आपके यंहा जो कंपनी दे रही है आप वंह खरीद सकते है!! किसान भाई same टेक्निकल वाली सस्ती लोकल दवाईयों की खरीददारी से बचिए !! अपना मेहनत का पैसा और अपनी फसल को नुकसान से बचाईये .

Dose :

गेंहू, मकई, ज्वार, धान, ज्वार, आलू, टमाटर, मिर्च, तरबूज, खरबूज, लौकी, करेला, चुकरकंद, प्याज, मूंगफली, सूरज मुखी, अंगूर और मसूर केलिए आपको लेना है 750 लिटर पानी में  1.5- 2kg प्रति हेक्टर,

40gm प्रति 15 लिटर पानी में , 65-70 gm प्रति 25 लिटर पेट्रोल पंप .

सेंफ, नारियल और अमरुद केलिए आपको लेना है ,10 लिटर पानी में 20-30 gm प्रति पेड़ .

केले केलिए आपको लेना है, 30gm प्रति 15 लिटर पानी में , 50gm प्रति 25 लिटर पेट्रोल पंप .

छिडकाव करने से पहले टंकी को अछेसे से डंडे के सहायतासे अछेसे हिलाले ताकि दवाई अछेसे से घुल मिल जाये .

कुछ होनेवाले नुकसान ? कुछ सावधानिया ?

जेसे की आपको पता है अति किया तो नुकसान होता है ठीक वेसे ही दवाई को अधिक मात्रा में लेकर छिडकाव करनेसे फसल ख़राब हो सकती है!! और ध्यान देने की बात यंह है की दवाई को बहोत कम मात्रा में लेकर छिडकाव करनेसे दवाई का असर कम होता है रिजल्ट नही मिल पाते है . आपको दोबारा स्प्रे करना पड़ सकता है , सही मात्रा लेकर छिडकाव करिए अपना कीमती समय और मजदूरो पर होनेवाले खर्च को बचाईये .

मुंह पर कपड़ा न बांध कर छिडकाव करनेसे सांस् लेने में तकलीफ होना , उलटी आना , सिरदर्द होना , आँखों में जलन होना , पेट दर्द होना यंह कुछ समस्याये आ सकती है!! किसान भाई दवाई जहरीली है कृपया आप इसे अपने बच्चो अपने जानवरों की पहुंच से दूर रखिये .

अन्य फफूंद नाशक :

अक्सर पूछे जाने वाले कुछ सवाल ?

हम क्या mancozeb fungicide और कीटनाशक को एकसाथ दे सकते है ? हाँ

mancozeb fungicide क्या systemic fungicide है? नही

क्या हम Expire हुवा mancozeb fungicide इस्तेमाल कर सकते है ? ना करे तो ही अच्छा है

mancozeb fungicide क्या lime सल्फर के साथ रियेक्ट करता है? हाँ

तो किसान भाईयो यंह जानकारी आपको केसी लगी हमें कमेंट करके जरुर बताये , आपका सुजाव हमारे लिए जरूरी है . एसिही अन्य महत्वपूर्ण दवाईयो की latest जानकारी केलिए आप हमारा ब्लॉग subscribe कर सकते है और अन्य किसान भाई से share कर सकते है .

पोस्ट को पढने केलिये आपका बहोत बहोत धन्यवाद् !! तबतक किसान भाई ख्याल रखिये अपना और अपनी फसल का  !! जय हिन्द जय भारत !!

पोस्ट को शेयर करे

Leave a Comment

x