Zinc fertilizer Uses in Hindi: जिंक उर्वरक के फायदे, उपयोग एंव नुकसान

फसलो में जिंक 33% सूक्ष्मपोषक तत्व के इस्तेमाल से क्या फायदा मिलता है ? कब जिंक का छिडकाव फसलो पर करना चाहिए ? मार्केट में Zinc fertilizer का price क्या है ? जिंक का सही dose क्या है ? किन फसलो में जिंक की जरुरत रहती है ? तथा छिडकाव कर सकते है ?

इसके इलावा किसान भाई जिंक से जुडी अन्य जरुरी बाते क्या है ? किसान भाई जानेंगे विस्तारसे.

जिंक के इस्तेमाल से फसलो को क्या फायदा मिलता है ? जरूरत क्या है ?

  • फसलो की इम्युनिटी को बूस्ट करता है, रोगों से लढ़ नेकी ताकत देता है, फसलो में फफूंद जनीत बीमारियों से दुरी बनाये रखता है.
  • अनचाही होनेवाली टूट फुट के कारण होनेवाली चोंटो को सुधारेका काम यंह करता है, फसलो में होनेवाली काट छाट के कारण होनेवाले घावो को भरने का काम यंह करता है.
  • फसलो में होनेवाली वेनिकुलर रोग जिससे पत्तिया जरूरत से अधिक पिली पढ़ जाती है, उससे फसलो को सुरक्षित करता है.
  • जिंक फसलो में जरुरी एंजाइम को क्रियान्वित करता है, जिससे फसलो में प्रोटीन निर्माण तेज गतिसे होता है.
  • फसलो में हरित लवक की मात्रा बढाता है, जिससे फसले हरीभरी बनती है.
  • मौसम बढ़ती ठंडक से फसलो की सुरक्षा करता है, फसलो में अधिक ठंड के कारण होनेवाले नुकसान से बचाता है.
  • फसलो में औक्सिन निर्माण में जिंक का काफी योगदान रहता है, जिससे फसलो में तेज बढवार होती है.
  • जिंक प्रकाश संश्लेषण की क्रिया को जनरेट करता है, तेज करता है. फसलो में श्वसन क्रिया को क्रियान्वित करता है.
  • फसलो में फ्लोवेरिंग की क्रिया के समय काफी महत्वपूर्ण रहता है, फल फूलो का सही विकास करनेमे सहायक है.
  • शर्करा की मात्रा बढाता है. फलो में मीठापन लानेका काम यंह करता है. फलो की साइज़ को बढाता है, फलो की गुणवता को बढाता है.
zinc fertilizer

फसलो में जिंक की कमी के क्या लक्षण होते है ?

हमे कैसे पता चले की यंह जिंक कमी की वजह से हो रहा है ? इसमे किसान भाई आप देंखेंगे हमारी फसलो की उपरी पत्तियो की बढ़वार ठीक से हो नहीं पाती है. पत्तिया हल्की पिली पड़ती दिखाई पढ़ती है. पत्तियों की अंदर की कोशिकाये असानिसे दिखने लगती है. इसके इलावा फसलो बढ़वार ठीक से हो नही पाती है. पौधे के दो नोड में काफी कम अंतर दिखाई पढता है. फसलो में कम शाखाये और फुल बनते दिखाई पढ़ते है. साथही फसलो पर काफी रोगों का प्रकोप दिखाई पढता है. फसलो पर जरूरत से अधिक बार छिडकाव करने की नौबत आती रहती है.

किन कारणों से फसलो में जिंक की कमी बन जाती है ?

  • यदि आपकी मिट्ठी का ph जादा है, या यूंह कहे की आपकी मिट्ठी क्षारी है. तो जिंक की कमी मिट्ठी में बन जाती है.
  • यदि आपके यंहा का मौसम जादातर ठंडा रहता है. काफी कम धुप पडती है. मिट्ठी जादातर समय ठंड में रहती है. तभी जिंक की कमी मिट्ठी में बन जाती है.
  • फसलो में जिंक का समय – समय पर इस्तेमाल ना करते रहना भी जिंक की कमी को दर्शाता है.
  • फोस्फोरस की मात्रा मिट्ठी में अधिक होनेसे भी जिंक की कमी मिट्ठी में बन जाती है. इसके अलावा किसान भाई अन्य कारणों की वजह से भी जिंक की कमी मिट्ठी में बन जाती है.
zinc fertilizer

Iffco कंपनी का मिलनेवाला जिंक उत्पाद

इसमे किसान भाई हमें Zinc sulphate 33% ( Zinc Sulphate Monohydrate ) मिलता है. इसमे जिंक 33% + सल्फर 15% के अनुरप में हमे मिलता है. इसे किसान भाई आप बेसल dose में उर्वरको के साथ दे सकते है. इसके इलावा किसान भाई इसे छिडकाव केलिए भी इस्तेमाल कर सकते है.

Read more: अधिक तर किसान भाई क्यों लिहोसिन टॉनिक को इतना पसंद करते है ?

किन किन फसलो पर हम जिंक का इस्तेमाल कर सकते है ?

इसे किसान भाई आप गन्ना, सोयाबीन, गेंहू, चना, कपास, धान, मूंगफली, हल्दी, मुंग, उड़द, बेंगन, मिर्च, मकई, टमाटर, आलू, और पत्तागोभी में इस्तेमाल कर सकते है. इसके इलावा किसान भाई आप यदि बागवानी कर रहे तो भी जिंक का इस्तेमाल कर सकते है. फूलो की खेती और घर के गार्डन में भी जिंक उपयोगी है. यूंह कहे तो लगभग सभी फसलो पर जिंक का इस्तेमाल कर सकते है.

zinc fertilizer

Pro tip : जिंक के साथ आप NPK जलद घुलनशील खाद, कीटनाशक, फफूंद नाशक, माइक्रो नुट्रीयंट टॉनिक का इस्तेमाल आप कर सकते है. बस ध्यान रहे की आप इसे किसी भी खरपतवार नाशक के साथ ना दे. फसल को नुकसान पहुँच सकता है.

Read more: फूलो की संख्या की वृद्धी केलिए बोरोन क्यों जरूरी है ?

छिडकाव केलिये बेस्ट समय ?

पहला स्प्रे – फुटाव निकलते समय कर सकते है.

दूसरा  स्प्रे – फूल बनने के अवस्था ( 40-45 दिन बाद ) कर सकते है.

तिसरा स्प्रे – फल बनने कि अवस्था में कर सकते है.

zinc fertilizer

Pro tip:

विशेष सावधानी कि बात करे तो आप इसे 35 डिग्री से अधिक तापमान होने पर स्प्रे ना करे फसलो में रिजल्ट कम देखनेको मिलते है. रिजल्ट टाइम बात करे तो इसका लगभग 10-15 दिन तक अच्छा रिजल्ट देखनेको मिलता है.

Read more: अधिकतर किसान भाई पोटाश खाद का इस्तेमाल क्यों करते है ?

Zinc उर्वरक Price ?

तो किसान भाई जिंक का 1 किलो का पैक लगबग 120-150 रूपये तक आ जाता है. ब्रांड कंपनी के अनुसार इसकी कीमत कम या जादा हो सकती है. इसके इलावा किसान भाई लोकेशन और मार्केट के अनुसार भी कीमत कम या जादा हो सकती है. और ध्यान देने की बात यंह की आप सिर्फ iffco का नही बल्कि अन्य कंपनियों का भी जिंक ले सकते है. बस ध्यान रहे की वंह जेन्युइन हो , ओरिजिनल हो, लोकल जिंक की खरीदारी ना करे. रिजल्ट नही मिल पाते है. इसीके साथ किसान भाई आप इसे ऑनलाइन भी मंगवा सकते है. ऑनलाइन मंगवाए

Zinc fertilizer का बेस्ट Dose ?

स्प्रे केलिए :

150-200 लीटर पानी में 300-500gm प्रति एकड़, 30-50gm प्रति 15 लीटर पानी में मिक्स करके 8-10 दिन के अंतराल पर अपनी जरूरत के अनुसार छिडकाव कर सकते है. जरूरत से अधिक मात्रा में इसका प्रयोग न करे पत्तिया जल सकती है. यदि आप NPK जलद घुलनशील खाद( 12:61:00, 17:44:00, 13:40:13 ) खास कर जिनमे फोस्फोरस (p) की मात्रा अधिक रहती है. उसके साथ आप जिंक की मात्रा जरूरत से अधिक मात्रा में लेकर छिडकाव ना करे. पत्तियों पर जलने के दाग पड़ते है.

बेसल dose केलिए :

आप उर्वरको के साथ जिंक को 8-10 किलो प्रति एकड़ के हिसाब से दे सकते है!! इसे आप फसल की बढ़वार के समय देते है तो काफी अछे रिजल्ट मिलते है.

तो किसान भाई जिंक Zinc fertilizer की यंह जानकारी आपको केसी लगी हमें कमेंट में जरुर बताये, आपका सुजाव हमारे लिए जरूरी है. एसिही अन्य महत्वपूर्ण दवाईयो की latest जानकारी केलिए आप हमारा ब्लॉग subscribe कर सकते है और अन्य किसान भाई से share कर सकते है. पोस्ट को पढने केलिये आपका बहोत बहोत धन्यवाद् , तबतक किसान भाई ख्याल रखिये अपना और अपनी फसल का  !! जय हिन्द जय भारत !!

अक्सर पुछे जानेवाले सवाल ? FAQ ?

जिंक उर्वरक क्यों अच्छा है ? यंह फसलो की बढ़वार और फसलो में एंजाइम को क्रियान्वित करनेमे काफी उपयोगी है.Zinc fertilizer

किन फसलो को जिंक की आवशकता होती है ? कपास, धान, सोयाबीन, गन्ना, मकई, चना, गेंहू और लगबग सभी फसलो को जिंक Zinc fertilizer की आवशकता होती है.

जिन फसलो में जिंक की कमी हो जाती है, वंह कैसे समजे ? फसलो की प्रॉपर बढ़वार नही हो पाती है, फल फूलो की संख्या में कमी आती है,  हरित लवक की कमी हो जाती है जिससे फसलो में हरापन कम होता जाता है. यंह कुछ लक्षण है आप जिससे जिंक की कमी को पहचान सकते है.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top