बेंटोनाइट सल्फर: सल्फा मैक्स के फायदे, लाभ, उपयोग, मिट्ठी Ph नियंत्रक Sulphur 90 fertilizer Gromor

सभी किसान भाई को मेरा नमस्कार | आज हम बात करेंगे Coromandel कंपनी का Gromor sulphur 90 Fertilizer के बारेमे

जानेगे इसके इस्तेमाल  करनेसे होनवाले फायदे के बारेमे और साथ हि जानेगे इसका price , dose किन किन फसलो में इस्तेमाल हम कर सकते है ? बेस्ट स्प्रे टाइम  कब होता है ? जानेंगे विस्तारसे.

सबसे पहले बात करलेते ही इसके टेक्निकल कंटेंट के बारेमे ?

इसमे sulphur 90% + bentonite 10%  है यंह Fast sulphur Release Technology पर आधारित है |

सबसे पहले बात करलेते है sulphur कि कमी के लक्षण के बारेमे और उससे होनेवाले नुकसान के बारेमे ?

पत्तियों में हल्के पीले रंग के दाग पड़ जाते है |

Contents

पत्तियों में chlorophil कि कमी हो जाती है |

पोधे सुचारू रूपसे भोजन नहीं बना पाते है |

पौधे कि बढ़वार रुक जाती है |

बात करलेते है फसलो को देने केलिये  बेस्ट टाइम के बारेमे ?

फूल-फल बनने के अवस्था से पूर्व हि आपको दे देना है | यानिकी पौधे कि वनस्पतीक अवस्था मे दे |

आईये बात करलेते पौधे को होनेवाले फायदों के बारेमे ?

  1. उपज में वृद्धी होती है |
  2. Nitrogen कि पाचन क्रिया को बढ़ा देता है |
  3. ठंडे मौसम में sulphur का अच्छा रिजल्ट देखनेको मिलता है |
  4. टॉनिक का काम करता है |
  5. खाद काम करता है |
  6. fungicide का काम करता है |
  7. तिलहनी फसलो में तेल कि मात्र को बढा देता है |
  8. मिटी का ph कम करता है |
  9. जड़ो द्वारा पोषक तत्वों का अवशोषण को बढाता है |
  10. पोधों कि ग्रोथ को बढाता है |
  11. उत्पादन को बढाता है |
Sulphur 90 fertilizer

बात करलेते है यंह किन किन फसल में इसका इस्तेमाल हम कर सकते है ?

मुख रूपसे कपास, धान, चना, मका , गना , अरहर, सोयाबीन, मुंग ,उड़द , बरबटी , बैंगन ,पत्तागोभी ,मिर्च, मटर और अन्य सभी सब्जी वर्गी फसलो में उस कर सकते है |

लगभग सभी फसलो पर इसका इस्तेमाल कर सकते है |

Sulphur 90 fertilizer

बात कर लेते है फसलो पर संक्षिप्त में होनेवाले फायदों के बारेमे ?

कपास :
  • उपज में वृद्धी होती है |
  • Nitrogen कि पाचन क्रिया को बढ़ा देता है |
  • पौधे को मजबूती देता है |
  • पोधे का विकास करनेमे सहायता करता है |
  • पौधे को हराभरा रखनेमे मदत करता है |
  • पौधे को रोगों से लढ़ नेमे मदत करता है |
चना :
  • पौधे को मजबूती देता है |
  • उपज में वृद्धी होती है |
  • Nitrogen कि पाचन क्रिया को बढ़ा देता है |
  • पोधे का विकास करनेमे सहायता करता है |
  • फसल को हराभरा रखनेमे मदत करता है |
  • पौधे को रोगों से लढ़ नेमे मदत करता है |
मिर्च :
  • फसल को मजबूती देता है |
  • उपज में वृद्धी होती है |
  • Nitrogen कि पाचन क्रिया को बढ़ा देता है |
  • पोधे का विकास करनेमे सहायता करता है |
  • फसल को हरीभरी रखनेमे मदत करता है |
  • पौधे को रोगों से लढ़ नेमे मदत करता है |
अरहर :
  • फसल को सुरक्षा प्रदान करता है |
  • पोधे का विकास करनेमे सहायता करता है |
  • उपज में वृद्धी होती है |
  • Nitrogen कि पाचन क्रिया को बढ़ा देता है |
  • फसल को हरीभरी रखनेमे मदत करता है |
  • पौधे को रोगों से लढ़ नेमे मदत करता है |
  • फल फूलो कि dropping को कम करनेमे मदत करता है |
मुंग :
  • फसल को मजबूती देता है |
  • उपज में वृद्धी होती है |
  • Nitrogen कि पाचन क्रिया को बढ़ा देता है |
  • पोधे का विकास करनेमे सहायता करता है |
  • फसल को हरीभरी रखनेमे मदत करता है |
  • पौधे को रोगों से लढ़ नेमे मदत करता है |
  • फल फूलो कि dropping को कम करनेमे मदत करता है |
टमाटर :
  • फसल को मजबूती देता है |
  • पोधे का विकास करनेमे सहायता करता है |
  • उपज में वृद्धी होती है |
  • Nitrogen कि पाचन क्रिया को बढ़ा देता है |
  • फसल को हरीभरी रखनेमे मदत करता है |
  • पौधे को रोगों से लढ़ नेमे मदत करता है |
  • फल फूलो कि dropping को कम करनेमे मदत करता है |
सोयाबीन :
  • फसल को मजबूती देता है |
  • उपज में वृद्धी होती है |
  • Nitrogen कि पाचन क्रिया को बढ़ा देता है |
  • पोधे का विकास करनेमे सहायता करता है |
  • फसल को हरीभरी रखनेमे मदत करता है |
  • पौधे को रोगों से लढ़ नेमे मदत करता है |
उड़द :
  • पौधे को मजबूती देता है |
  • उपज में वृद्धी होती है |
  • Nitrogen कि पाचन क्रिया को बढ़ा देता है |
  • पोधे का विकास करनेमे सहयता करता है |
  • फसल को हरीभरी रखनेमे मदत करता है |
  • पौधे को रोगों से लढ़ नेमे मदत करता है |
  • फल फूलो कि dropping को कम करनेमे मदत करता है |
मकई :
  • फसल को मजबूती देता है |
  • उपज में वृद्धी होती है |
  • Nitrogen कि पाचन क्रिया को बढ़ा देता है |
  • पोधे का विकास करनेमे सहयता करता है |
  • फसल को हरीभरी रखनेमे मदत करता है |
  • पौधे को रोगों से लढ़ नेमे मदत करता है |
मटर :
  • फसल को मजबूती देता है |
  • पोधे का विकास करनेमे सहायता करता है |
  • उपज में वृद्धी होती है |
  • Nitrogen कि पाचन क्रिया को बढ़ा देता है |
  • पौधे को हराभरा रखनेमे मदत करता है |
  • पौधे को रोगों से लढ़ नेमे मदत करता है |
गन्ना :
  • फसल को मजबूती देता है |
  • पोधे का विकास करनेमे सहायता करता है |
  • उपज में वृद्धी होती है |
  • Nitrogen कि पाचन क्रिया को बढ़ा देता है |
  • पौधे को हराभरा रखनेमे मदत करता है |
  • पौधे को रोगों से लढ़ नेमे मदत करता है |
आलू :
  • फसल को मजबूती देता है |
  • पोधे का विकास करनेमे सहायता करता है |
  • उपज में वृद्धी होती है |
  • Nitrogen कि पाचन क्रिया को बढ़ा देता है |
  • पौधे को हराभरा रखनेमे मदत करता है |
  • पौधे को रोगों से लढ़ नेमे मदत करता है |
भिंडी :
  • फसल को मजबूती देता है |
  • पोधे का विकास करनेमे सहायता करता है |
  • उपज में वृद्धी होती है |
  • Nitrogen कि पाचन क्रिया को बढ़ा देता है |
  • पौधे को हराभरा रखनेमे मदत करता है |
  • पौधे को रोगों से लढ़ नेमे मदत करता है |

बात करलेते इसके Dose के बारेमे ?

3 kg प्रति एकड़ दे सकते है | 15 kg यूरिया में 1kg दे सकते है

बात करते है इसके price के बारेमे ?

तो यंह लगभग 3 kg  का पैक 300 रू तक आ जाता है लोकेशन के अनुसार थोडा प्राइस उपर निचे दिख्नेनेको मिल सकता है | अगर बात करे इसके निर्माता कंपनी के बारेमे तो यंह Coromandel  का उत्पाद है |

किसान भाईयो बात कर लेते अक्सर पूछे जाने वाले कुछ सवालो के बारेमे ?

क्या  Gromor sulphur 90 Fertilizer फसलो के लिये अच्छा है ? हाँ

क्या Gromor sulphur 90 Fertilizer के इस्तेमाल से मिट्टी का ph कम होता है ? हाँ

क्या Gromor sulphur 90 Fertilizer का इस्तेमाल सूखे कम बरसात वाले क्षेत्र में कर सकते है ? हाँ

क्या Gromor sulphur 90 Fertilizer टॉनिक काम करता है ? हाँ

क्या Gromor sulphur 90 Fertilizer का इस्तेमाल अधिक बरसात वाले क्षेत्र में कर सकते है ? नहीं

क्या Gromor sulphur 90 Fertilizer फसलो का पीलापन कम करता है ? हाँ

तो किसान भाईयो यंह जानकारी आपको केसी लगी हमें कमेंट करके जरुर बताये आपका कोई सुजाव है तो कमेंट करके जुरूर बताये , पोस्ट को पढने केलिये आपका बहोत बहोत धन्यवाद् ,

तबतक किसान भाईयो जय हिन्द जय भारत |

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top