Lihocin Uses In Hindi: लिहोसिन टॉनिक के फायदे, उपयोग, डोज, कीमत एंव सावधानिया

Basf का lihocin टॉनिक के फायदे क्या है ? किन फसलो पर छिडकाव करना चाहिए ? lihocin में कोनसा PGR content है ? 1 लीटर का price क्या है ? छिडकाव केलिये कितना dose ले ?किन फसलो पर हमे इसका छिडकाव करना चाहिए ? किसान भाई जानेंगे विस्तारसे.

इसमे कोनसा टेक्निकल कंटेंट है ?

इसमे Chlormequat Chloride 5% w/w है. यंह एक Plant growth Regulator है. जो फसलो की विकास प्रणाली को सुधारेनेमे काफी अच्छा काम करता है . इसका जादातर इस्तेमाल फसलो की हाइट को रोखनेमे किया जाता है. यंह फसलो की उपरी बढ़वार की दिशा को रोखकर उसे साइड की आजूबाजू की दिशामे करता है. जिससे फसलो की उर्जा फल-फूलो की दिशामे लग जाती है. यंह न सिर्फ हरित लवक की मात्रा को बढाता है, बल्कि फल-फूलो की संख्या में बढ़ोतरी भी करता है.

Pro Tip : ” एक अच्छी संगत में रहना, प्रगति के द्वार खोलती है.” – अज्ञात.

बेस्ट result केलिये छिडकाव किस समय करना चाहिए ?

पहला स्प्रे – फूल बनने के अवस्था में ( 40-45 दिन बाद ) करना चाहिए

दूसरा स्प्रे – फल बनने कि अवस्था में करना चाहिए

Lihocin
lihocin

आईये बात करलेते छिडकाव करनेसे से होने फायदों के बारेमे ?

  • फसल कि अनचाही वृधि को रोकता है.
  • वनस्पतिक विकास और प्रजनन प्रणाली को बढ़ाने के लिये अनुशाशित करता है.
  • यंह एक पौध विकास नियामक है .
  • उत्पादन में वृधि करता है .
  • फल -फूलो कि संख्या में वृद्धी करता है .
  • फसल को हरीभरी रखता है .

इसको आप टॉनिक, फंफुदनाशक , Humic acid, Folic acid, Amino acid, किसी भी कीटनाशक के साथ मिक्स करके स्प्रे कर सकते है. लेकिन आप खरपतवार नाशक और NPK के साथ मिक्स ना करे. यदि करते है तो रिजल्ट कम देखनेको मिलता है.

किन फसलो पर छिडकाव करना अच्छा रहता है ?

मुख रूपसे कपास, धान, चना, मका, गना, अरहर, सोयाबीन, मुंग, उड़द, बरबटी , बैंगन, पत्तागोभी, मिर्च, मटर और अन्य सभी सब्जी वर्गी फसलो में इस्तेमाल कर सकते है!! लगभग सभी फसलो पर इसका इस्तेमाल कर सकते है.

अब थोडा बरिकिसे समजते है इसके छिडकाव से फसलो पर क्या प्रभाव पड़ता है ?

कपास :-

अनचाही वृधि को रोकता है. फल -फूलो कि संख्या में वृद्धी करता है. फसल को हरीभरी रखता है. पौधे को तनाव से बचाता है!! कपास कि वनस्पतिक विकास और प्रजनन प्रणाली को बढ़ाने के लिये अनुशाशित करता है. यंह कपास केलिये एक पौध विकास नियामक का काम करता है. उत्पादन में वृधि करता है.

धान :-

अनचाही वृधि को रोकता है. धान कि बालियों कि संख्या में वृद्धी करता है. फसल को हरीभरी रखता है. धान कि फसल को तनाव से बचाता है!! धान कि वनस्पतिक विकास और प्रजनन प्रणाली को बढ़ाने केलिये अनुशाशित करता है!! यंह धान का एक पौध विकास नियामक का काम करता है. उत्पादन में वृधि करता है.

चना :-

फसल कि अनचाही वृधि को रोकता है. फल -फूलो कि संख्या में वृद्धी करता है. फसल को हरीभरी रखता है. चने को तनाव से बचाता है!! चने का वनस्पतिक विकास और प्रजनन प्रणाली को बढ़ाने केलिये अनुशाशित करता है!! यंह चने का एक पौध विकास नियामक का काम करता है. उत्पादन में वृधि करता है.

मक्का :-

अनचाही वृधि को रोकता है. मकई के भुट्टो कि संख्या में वृद्धी करता है. मकई को तनाव से बचाता है. मकई को हरीभरी रखता है!! मक्का कि वनस्पतिक विकास और प्रजनन प्रणाली को बढ़ाने के लिये अनुशाशित करता है!! यंह मक्का केलिये एक पौध विकास नियामक का काम करता है. उत्पादन में वृधि करता है.

गन्ना :-

अनचाही वृधि को रोकता है. गन्ने को हराभरा रखता है!! गन्ने कि वनस्पतिक विकास और प्रजनन प्रणाली को बढ़ाने केलिये अनुशाशित करता है!! यंह गन्ने का एक पौध विकास नियामक का काम करता है. उत्पादन में वृधि करता है.

अरहर :-

अनचाही वृधि को रोकता है. अरहर के फल -फूलो कि संख्या में वृद्धी करता है. फसल को हरीभरी रखता है!! अरहर को वनस्पतिक विकास और प्रजनन प्रणाली को बढ़ाने केलिये अनुशाशित करता है!! यंह अरहर का एक पौध विकास नियामक का काम करता है!! उत्पादन में वृधि करता है.

lihocin
सोयाबीन :-

फसल कि अनचाही वृधि को रोकता है. फल -फूलो कि संख्या में वृद्धी करता है. सोयाबीन को हराभरा रखता है!! सोयाबीन कि वनस्पतिक विकास और प्रजनन प्रणाली को बढ़ाने केलिये अनुशाशित करता है!! यंह सोयाबीन का एक पौध विकास नियामक का काम करता है. उत्पादन में वृधि करता है .

मुंग :-

अनचाही वृधि को रोकता है. फल -फूलो कि संख्या में वृद्धी करता है. फसल को हरीभरी रखता है. मुंग को तनाव से बचाता है!! मुंग कि वनस्पतिक  विकास और प्रजनन प्रणाली को बढ़ाने के लिये अनुशाशित करता है!! यंह मुंग का एक पौध विकास नियामक का काम करता है. उत्पादन में वृधि करता है.

उड़द :-

फसल कि अनचाही वृधि को रोकता है. फल -फूलो कि संख्या में वृद्धी करता है. फसल को हरीभरी रखता है. उड़द को तनाव से बचाता है!! उड़द वनस्पतिक विकास और प्रजनन प्रणाली को बढ़ाने केलिये अनुशाशित करता है!! यंह उड़द का एक पौध विकास नियामक का काम करता है. उत्पादन में वृधि करता है.

बरबटी :-

फसल कि अनचाही वृधि को रोकता है. फल -फूलो कि संख्या में वृद्धी करता है. फसल को हरीभरी रखता है!! बरबटी कि वनस्पतिक विकास और प्रजनन प्रणाली को बढ़ाने केलिये अनुशाशित करता है!! यंह बरबटी का एक पौध विकास नियामक का काम करता है!! उत्पादन में वृधि करता है.

बेंगन :-

अनचाही वृधि को रोकता है. फल -फूलो कि संख्या में वृद्धी करता है. बेंगन कि फसल को हरीभरी रखता है. बेंगन कि फसल को तनाव से बचाता है!! बेंगन कि वनस्पतिक विकास और प्रजनन प्रणाली को बढ़ाने केलिये अनुशाशित करता है!! यंह बेंगन का एक पौध विकास नियामक का काम करता है. उत्पादन में वृधि करता है.

पत्तागोभी :-

फसल कि अनचाही वृधि को रोकता है. पत्तागोभी कि फसल को हरीभरी रखता है!! पत्तागोभी कि वनस्पतिक विकास और प्रजनन प्रणाली को बढ़ाने केलिये अनुशाशित करता है!! यंह पत्तागोभी का एक पौध विकास नियामक है. उत्पादन में वृधि करता है.

मिर्च :-

उत्पादन में वृधि करता है. फसल कि अनचाही वृधि को रोकता है!! मिर्च कि वनस्पतिक विकास और प्रजनन प्रणाली को बढ़ाने केलिये अनुशाशित करता है!! यंह मिर्च का एक पौध विकास नियामक काम करता है!! फल -फूलो कि संख्या में वृद्धी करता है. मिर्च कि फसल को हरीभरी रखता है. मिर्च को तनाव से दूर रखता है.

मटर :-

अनचाही वृधि को रोकता है. फसल को हरीभरी रखता है. मटर को तनाव से दूर रखता है!! मटर कि वनस्पतिक विकास और प्रजनन प्रणाली को बढ़ाने केलिये अनुशाशित करता है!! यंह मटर का एक पौध विकास नियामक है. उत्पादन में वृधि करता है.

टमाटर :-

अनचाही वृधि को रोकता है. फल -फूलो कि संख्या में वृद्धी करता है. फसल को हरीभरी रखता है. टमाटर को तनाव से दूर रखता है!! टमाटर कि वनस्पतिक  विकास और प्रजनन प्रणाली को बढ़ाने केलिये अनुशाशित करता है!! यंह टमाटर का एक पौध विकास नियामक है. उत्पादन में वृधि करता है.

भिंडी :-

उत्पादन में वृधि करता है. भिंडी कि अनचाही वृधि को रोकता है!! भिंडी कि वनस्पतिक विकास और प्रजनन प्रणाली को बढ़ाने के लिये अनुशाशित करता है. यंह भिंडी का एक पौध विकास नियामक है!! फल -फूलो कि संख्या में वृद्धी करता है. फसल को हरीभरी रखता है. भिंडी को तनाव से दूर रखता है.

ककड़ी :-

ककड़ी कि फसल कि अनचाही वृधि को रोकता है!! वनस्पतिक विकास और प्रजनन प्रणाली को बढ़ाने के लिये अनुशाशित करता है!! यंह ककड़ी का एक पौध विकास नियामक है. lihocin से उत्पादन में वृधि करता है!! फल -फूलो कि संख्या में वृद्धी करता है. फसल को हरीभरी रखता है. ककड़ी को तनाव से दूर रखता है .

MARKET RATE/ PRICE ?

तो यंह लगभग 1 लीटर का पैक 1000-1100 रू तक आ जाता है, लोकेशन के अनुसार थोडा प्राइस उपर निचे दिख्नेनेको मिल सकता है!! अगर बात करे इसके निर्माता कंपनी के बारेमे तो यंह BASF का उत्पाद है . इसके इलावा किसान भाई आप इसे ऑनलाइन भी खरीद सकते है. ऑनलाइन ख़रीदे

बात करते इसके dose क्या ले ताकि अछे result मिले ?

150-170 लीटर पानी में 250 ml प्रति एकड़ , 25ml प्रति 15 लीटर पानी में मिक्स करके छिडकाव कर सकते है!! छिडकाव करने से पहले टंकी को अछेसे से डंडे के सहायतासे अछेसे हिलाले ताकि दवाई अछेसे से घुल मिल जाये!! सिल्कोंन चिपको मिलके छिडकाव करते है तो  किसान  भाई काफी अछे रिजल्ट देख्नोनेको मिलते है, शाम के समय छिडकाव करनेसे 100% रिजल्ट मिलेंगे!!

तो किसान भाई यंह जानकारी आपको कैसी लगी. हमे कमेंट में जरुर बताये. आपका सुजाव हमारे लिए जरुरी है. ऐसीही अन्य खेती-बाड़ी से जुडी latest महत्वपूर्ण जानकारी केलिए आप हमारा ब्लॉग subscribe कर सकते है. और अपने अन्य किसान भाई से share कर सकते है.

पोस्ट को पढ़ने केलिए एंव आपका कीमती समय देने केलिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद, तबतक किसान भाई ख्याल रखिये अपना और अपनी फसल का. !! जय हिंद जय भारत !!

अन्य टॉनिक :

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल ? FAQ ?

सोयाबीन पर lihocin का छिडकाव कर सकते है क्या ? हाँ

कपास कि अनचाही वृद्धी को रोकने केलिये इसका इस्तेमाल करना सही है ? हाँ

seaweed extract के साथ lihocin को मिक्स करके छिडकाव कर सकते है क्या ? हाँ

क्या lihocin टॉनिक कि Expire तारीख होती है ? हाँ

क्या हम Expire हुवा lihocin टॉनिक इस्तेमाल कर सकते है ? नहीं

क्या हम lihocin टॉनिक को अन्य कीटनाशक के साथ मिक्स करके छिडकाव कर सकते है ? हाँ

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top